बिहारी जी के लिए एक भक्त का बहुत ही प्यारा भाव
बिहारी जी के लिए एक भक्त का बहुत ही प्यारा भाव

बिहारी जी के लिए एक भक्त का बहुत ही प्यारा भाव

sourceTwitter

हे बिहारी जी

भीड़ में भी सुकून मिलता है

शोर में भी शांति मिलती है

हे बिहारी जी आपके दरबार की तो बात ही निराली है

तेरे दर पर आकर फकीर भी खुद को बादशाह समझता है

जिसे कभी किसी ने ना चाहा हो वह तेरी चाहत पाकर मचलता है

जहां आकर अकेलापन का पर्दा सदा के लिए उठ जाता है

हे बिहारी जी आपके दरबार की तो बात ही निराली है

कैसे हो निहारु तुम्हें दो नैनो की तकरार में सब सिमट जाता है

तेरे दर पर आकर मेरा रोम रोम खिल जाता है

जिनकी कीमत नहीं समझते अपने वो यहां आकर अनमोल हो जाता है

कौड़ी की कीमत वाले यहां हीरे के मोल बिक जाता है

हे बिहारी जी आपके दरबार की तो बात ही निराली है

  • sapna haridasi

    sapna haridasi

    जून 28, 2018

    jay ho💕

    • Virasat Admin

      Virasat Admin

      जून 29, 2018

      🙂

Leave your comment
Comment
Name
Email