नवरात्रि की शुभकामनाएं-(Navratri wishes in Hindi) माँ का साथ सबके साथ -Navratri wishes in Hindi(1) माँ का साथ सबके साथ माँ का आशीर्वाद सबके साथ जो भी दिल से उसको अपना माने चाहे जग छोड़ साथ पर वो होता नहीं कभी अनाथ। संभालती भी तुम हो-Navratri wishes in Hindi(2) संभालती भी तुम हो संवारती भी…

श्रीमद् भागवत(shrimad Bhagwat) या भागवत महापुराण नारद जी की प्रेरणा से वेद व्यास जी  ने श्रीमद् भागवत(shrimad Bhagwat) ग्रन्थ लिखा। श्रीमद् भागवत(shrimad Bhagwat) या भागवत महापुराण 18 विभिन्न पुराणों में से 5 वें प्रमुख पुराण हैं। इसमें 12 अलग-अलग स्कन्द ,335 अध्याय  और लगभग 18,000 श्लोक शामिल हैं। अन्य पुराणों के समान, श्रीमद् भागवत ऋषि वेद व्यास द्वारा लिखे…

क्या रहस्य छुपा है भगवान श्री कृष्ण के शरीर के नीले/श्याम  रंग के पीछे हिन्दू धर्म के अनुसार श्री कृष्ण भगवान(krishna bhagwan) विष्णु के 8 वे अवतार कहलाते है तथा अब तक भगवान विष्णु के 23 अवतार हो चुके है. जब-जब इस पृथ्वी पर असुरो का आतंक बढ़ा है तथा अधर्म व्याप्त हुआ है तब-तब…

पानीहाटी चिड़ा-दही महोत्सव: पानीहाटी चिड़ा-दही महोत्सव गौडीय संप्रदाय में मनाया जाने वाला उत्सव है, जो श्रील रघुनाथ दास गोस्वामी पर स्वामी नित्यानंद प्रभु की विशेष कृपा को दर्शाता है | भक्ति एक महोत्सव है, भक्तो का हर क्षण उत्सव होता है क्यूंकि वे हर क्षण भगवान से जुड़े होते है | पानीहाटी चिड़ा-दही महोत्सव भी एसा…

हरि नाम लेखन की महिमा(hari nam lekhan mahima):- प्रभु से जुड़ने के अनेक माध्यम हमारे सद्ग्रंथो, ऋषि मुनियों एवं संतो द्वारा बताये गये है, उनमे से एक है हरि नाम (ram nam) जप और नाम लेखन | नाम में कोई भेद नही है.. ‘राम‘,’कृष्ण‘,’शिव‘,’राधे‘ जो नाम आपको प्रिय लगे उसी को पकड़ लो तो बेडा…

 जय जगन्नाथ स्वामी जय जगन्नाथ ! भक्त माधव दास जी :- उड़ीसा प्रान्त में जगन्नाथ पूरी में एक भक्त रहते थे , श्री माधव दास जी | अकेले रहते थे, कोई संसार से इनका लेना देना नही | अकेले बैठे बैठे भजन किया करते थे, नित्य प्रति श्री जगन्नाथ प्रभु का दर्शन करते थे और…

दिव्य शक्ति का संकेत है करोड़ों लोग ईश्वर से प्यार करते है पर बहुत खुशनसीब होते है वो जिनसे ईश्वर खुद प्यार करते है। जब परमात्मा खुद आपसे संपर्क करना चाहते है :- रात्रि 3से 5 के मध्य खुलती है नींद तो यह दिव्य शक्ति का कोई संकेत है कोई दिव्य शक्ति(divine power) आपको संदेश देना चाहते हैं…

भक्ति भाव भरी राह… जीवन में सब कुछ आसान हो जाता है जब उस परम सच से सामना हो जाता है नवधा भक्ति :- प्रभु राम ने माता शबरी को भक्ति की नौ प्रकार बताये है.. श्रवणं कीर्तनं विष्णोः स्मरणं पादसेवनम्। अर्चनं वन्दनं दास्यं सख्यमात्मनिवेदनम् ॥ श्रवण (परीक्षित), कीर्तन (शुकदेव), स्मरण (प्रह्लाद), पादसेवन (लक्ष्मी), अर्चन…

जिंदगी का वो सबब याद आ रहा है जिंदगी का वो सबब याद आ रहा है गलतियों से मिला वो सबक याद आ रहा है तेरे दर पर आकर सांवरे(saware) मेरा वो लौट जाना याद आ रहा है भूल हो गई प्यारे जो तुम्हें भुलाया तेरा वो प्यारा सा साथ याद आ रहा है जिंदगी…